पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करके अधिक रिटर्न कैसे प्राप्त करें?

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करके अधिक रिटर्न कैसे प्राप्त करें?
पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करके अधिक रिटर्न कैसे प्राप्त करें?

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करके अधिक रिटर्न कैसे प्राप्त करें? – आज के समय में बहुत सारे लोग अच्छा रिटर्न प्राप्त करने के उद्देश्य अपने पूंजी को किसी अच्छी जगह पर निवेश करना चाहते हैं। यदि आप सुरक्षित तरीके से अपने पूंजी का निवेश करना चाहते हैं तो इसके लिए पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करना आपके लिए सबसे बेहतर विकल्प हो सकता है। पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करने पर ना सिर्फ आपको टैक्स में लाभ मिलता है बल्कि इस पर मिलने वाले ब्याज और मेच्योरिटी की राशि पर भी कोई टैक्स नहीं देना पड़ता है। इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करके अधिक रिटर्न कैसे प्राप्त करें?

हालांकि आज के समय में आप अपने पूंजी को कई अलग-अलग जगहों पर निवेश कर सकते हैं इसके लिए शेयर मार्केट, बीमा, फिक्स डिपाजिट (FD) अकॉउंट और म्यूचुअल फंड कई प्रकार के विकल्प उपलब्ध है। लेकिन यदि आप PPF Account में निवेश करते हैं तो यह एक सुरक्षित और बेहतर स्कीम होता है। इसके साथ ही साथ आप इसमें अलग-अलग महीने के हिसाब से निवेश कर सकते हैं और एक निश्चित अवधि के बाद अच्छा रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं और किसी बड़े लक्ष्य की पूर्ति भी कर सकते हैं।

Read More – ELSS और ULIP में से किसमें निवेश करना सबसे अच्छा रहेगा?

यदि आप PPF Account में निवेश करना चाहते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसकी एक सबसे बड़ी खूबी यह है कि इसमें आप एक करोड रुपए या इससे अधिक काफी फंड तैयार कर सकते हैं। बहुत सारे लोगों को यह जानकारी नहीं होती है
कि पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट पर मिलने वाले ब्याज की गणना किस प्रकार की जाती है।

यदि आप पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करने जा रहे हैं तो यह समझना बहुत ही जरूरी है कि प्रतिमाह निवेश करना अच्छा रहेगा या फिर एकमुश्त निवेश करना अच्छा रहेगा। इसके अलावा आपको जमा की गई राशि और उस पर मिलने वाले ब्याज की गणना करना भी जरूरी है।

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट पर ब्याज की गणना कैसे करें?

यदि आप पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट पर मिलने वाले ब्याज की गणना करना बहुत ही आसान होता है। यदि आप अपने पब्लिक प्रोविडेंट खाते में पांचवी तारीख से लेकर महीने के आखिरी दिन के बीच में किसी रकम को जमा करते हैं तो उस पर ब्याज मिलता है। यदि आप पांचवी तारीख से पहले कोई राशि जमा करते हैं तो इस पर मिलने वाले ब्याज को पिछले महीने की जमा राशि के साथ गणना की जाएगी।

यदि आप पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में एक करोड़ रुपए का निवेश करना चाहते हैं तो इसके लिए महीने की पांचवी तारीख से पहले जमा करना सबसे अच्छा रहेगा। हालांकि पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में जमा की गई राशि का हर महीने गणना की जाती है लेकिन इसे वित्तीय वर्ष के अंत में ही अकॉउंट में क्रेडिट किया जाता है। यदि आप रणनीति बनाकर PPF Account में निवेश करें तो अच्छा खासा रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।

PPF Account में एक करोड़ रुपए का फंड कैसे बनाएं?

वर्तमान समय में पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकॉउंट में निवेश करने पर 7.1% का वार्षिक ब्याज मिलता है। यदि अगले 15 वर्षों तक यही ब्याज दर मिलता रहा और आप वार्षिक रूप से 1.5 लाख रुपए या प्रतिमाह ₹12500 जमा करते हैं तो 15 वर्षों में 7.1% वार्षिक ब्याज दर पर 40 लाख रुपए का फंड तैयार हो जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सरकार हर तिमाही में ब्याज दरों को संशोधित करते रहती है।

2019 में पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम के लिए निकाले गए नियमों के अनुसार आप इसे 5 साल के ब्लॉक में बढ़ा सकते हैं। इसीलिए यदि आप 15 साल के बाद अपने पब्लिक प्रोविडेंट फंड अकॉउंट को 5 साल के लिए बढ़ा देते हैं और प्रतिमाह ₹12500 का निवेश करते हैं तो 20 सालों में 7.1% वार्षिक ब्याज की दर पर 66 लाख रुपए का फंड तैयार कर लेंगे। इसके बाद यदि आप अगले 5 सालों के लिए अपने पब्लिक प्रोविडेंट खाते को और भी बढ़ा देते हैं तो 25 सालों में 7.1% वार्षिक ब्याज दर पर आप लगभग एक करोड रुपए का फंड तैयार कर लेंगे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*