भारत में Life Insurance Policy कितने तरह की होती है?

भारत में Life Insurance Policy कितने तरह की होती है?
भारत में Life Insurance Policy कितने तरह की होती है?

भारत में Life Insurance Policy कितने तरह की होती है? – आज के समय में बहुत सारे लोग जीवन बीमा पॉलिसी खरीदते हैं ताकि वह कुछ बचत कर सके और आगे किसी बड़े उद्देश्य की पूर्ति कर सके। यदि कोई परिवार किसी एक व्यक्ति की कमाई पर निर्भर रहता है तो उसके मृत्यु हो जाने के बाद जीवन बीमा पॉलिसी ही उसके परिवार का सहारा बनती है। जीवन बीमा पॉलिसी कई तरह की होती हैं। इनमें से कुछ पॉलिसी कवर के साथ-साथ बचत व निवेश के जरिए रिटर्न पाने की भी सुविधा प्रदान करती है। यानी जो व्यक्ति बीमा कराता है वह भी इसका लाभ ले सकता है। अब हम आपको बताएंगे कि भारत में जीवन बीमा पॉलिसी कितने तरह की होती है?

भारत में जीवन बीमा पॉलिसी कितने तरह की होती है?

भारत में 8 प्रकार की जीवन बीमा पॉलिसी उपलब्ध है, जिन्हें आप अलग-अलग उद्देश्य के लिए खरीद सकते हैं। नीचे हम आपको सभी 8 प्रकार की जीवन बीमा पॉलिसी के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

Read More – Crorepati Stocks: किन स्टॉक्स ने एक साल में दिया सबसे अधिक रिटर्न?

Term Insurance Plan

टर्म इंश्योरेंस प्लान एक निश्चित अवधि जैसे 10 साल 20 साल 30 साल इत्यादि के लिए खरीदा जाता है। आपने जितने अवधि के लिए इस प्लान को सुना है उस अवधि के लिए आपको कवरेज मिलेगा। इसमें मेच्योरिटी बेनिफिट नहीं मिलता है। बचत लाभ केविना लाइफ कवर देती है। टर्म इंश्योरेंस प्लान अन्य किसी पॉलिसी की तुलना में सस्ती भी होती है। यदि तय अवधि के बीच में पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है तो Assured Sum (एक तय रकम) की राशि प्रदान Beneficiary की जाती है।

Moneyback Insurance Policy

मनी बैक इंश्योरेंस पॉलिसी एक प्रकार की एंडोमेंट पॉलिसी ही होती है। यह पॉलिसी निवेश और बीमा का मिश्रण होता है। इस प्रकार की पॉलिसी में आप तय अवधि के दौरान ही Assured Sum को किस्तों में वापस ले सकते हैं। इसकी आखिरी किस्त पॉलिसी समाप्त हो जाने पर दी जाती है। यदि अवधि के दौरान पॉलिसी धारक की मौत हो जाती है तो Beneficiary को पूरा Assured Sum दे दिया जाता है। इस प्रकार की पॉलिसी का प्रीमियम बहुत अधिक होता है।

Endowment Policy

एंडोमेंट पॉलिसी भी इन्वेस्टमेंट और इंश्योरेंस दोनों का मिश्रण होता है। इस प्रकार की पॉलिसी में एक निश्चित अवधि के लिए रिस्क कवर भी मिलता है और अवधि समाप्त हो जाने के बाद पॉलिसी धारक को बोनस के साथ Sum Assured भी वापस किया जाता है। एंडोमेंट पॉलिसी के तहत यदि पॉलिसी धारक की मौत हो जाती है या निर्धारित अवध के बाद पॉलिसी की रकम की फेस वैल्यू का भुगतान करना पड़ता है। अलग-अलग प्रकार की गंभीर बीमारियों में भी इस पॉलिसी के तहत कुछ भुगतान मिलता है।

Savings & Investment Plan

सेविंग और इन्वेस्टमेंट प्लान वालेबी में में एकमुश्त फंड वापस मिलता है। इस प्रकार के प्लान कम अवधि एवं लंबी अवधि के वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने के लिए बचत की सुविधा उपलब्ध कराते हैं इसके साथ ही साथ यह इंश्योरेंस कवर के रूप में भी परिवार को एक निश्चित रकम भी उपलब्ध कराता है। इस प्रकार के जीवन बीमे में परंपरागत और यूनिट लिंक्ड दोनों तरह के प्लान कवर होते हैं।

ULIP – Unit Linked Insurance Plan

इस प्रकार के प्लान खरीदने पर सुरक्षा और निवेश दोनों प्रकार की सुविधा मिलती है। ट्रेडिशनल पॉलिसी यानी एंडोमेंट और मनी बैक में मिलने वाले रिटर्न पक्के होते हैं लेकिन इस प्रकार के प्लान में कितना रिटर्न मिलेगा इसकी कोई गारंटी नहीं होती है। क्योंकि आप यूलिप में जितना निवेश करते हैं उसको बॉन्ड और शेयर में लगाया जाता है। यानी आपका निवेश शेयर मार्केट में उतार या चढ़ाव पर आधारित रहता है। यूलिप में आप यह तय कर सकते हैं की कितना पैसा बॉन्ड में खर्च करना है और कितना पैसा शेयर मार्केट में खर्च करना है।

Whole Life Insurance Plan

आजीवन जीवन बीमा पॉलिसी का कोई निश्चित अवध नहीं होता है। इसमें आपको जीवन भर सुरक्षा की सुविधा मिलती है यदि पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है तो नॉमिनी को बीमा का फिल्म दिया जाता है। यदि किसी दूसरे जीवन बीमा पॉलिसी की बात करें तो उसमें एक अधिकतम अवधि होती है जो साधारण तौर पर 65 वर्ष या 70 वर्ष होती है। इसके बाद यदि पॉलिसी धारक की मौत हो जाती है तो बीमा का क्लेम नहीं किया जा सकता है।

लेकिन आजीवन जीवन बीमा पॉलिसी खरीदने वाले पॉलिसी धारक की मृत्यु जब भी हो उसका नॉमिनी क्लेम कर सकता है। हालांकि इस पॉलिसी का प्रीमियम थोड़ा सा अधिक रहता है। लेकिन इसके साथ ही साथ इसमें पॉलिसी धारक Assured Sum को थोड़ा-थोड़ा निकाल भी सकता है। इतना ही नहीं वह लोन के तौर पर भी इस पैसे को निकाल सकता है।

Child Insurance Policy

इस प्रकार की पॉलिसी बच्चों की शिक्षा एवं अन्य जरूरतों को पूरा करने के लिए दिया जाता है। इस प्रकार के प्लान में पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाने के बाद एकमुश्त रकम मिलता है लेकिन पॉलिसी समाप्त नहीं होती है। इतना ही नहीं भविष्य के सभी प्रीमियम भी माफ कर दिए जाते हैं और पॉलिसी धारक की ओर से इंश्योरेंस देने वाली कंपनी ही निवेश करती है और बच्चों को निश्चित अवधि तक पैसा देने का काम करती है।

Retirement Plan

इस प्रकार के प्लान में लाइफ इंश्योरेंस कवर की सुविधा प्रदान नहीं की जाती है। यह एक प्रकार का रिटायरमेंट सॉल्यूशन प्लान होता है जिसके तहत आप अपने रिस्क को जोड़कर रिटायरमेंट फंड तैयार कर सकते हैं। आपके द्वारा तय की गई अवधि के बाद आपको पेंशन के तौर पर कंपनी द्वारा भुगतान किया जाता है और यदि आप की मृत्यु हो जाती है तो आपके बेनिफिशियरी को इस रकम का भुगतान किया जाता है। इस प्रकार की रकम मासिक छमाही या सालाना आधार पर दिया जा सकता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*